DD/AIR News

  • अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने 'अंतरिक्ष कमान' बनाने का आदेश दिया । यह पेंटागन में एक नया संगठनात्मक ढांचा होगा, जिसका सैन्य अंतरिक्ष अभियानों पर समग्र नियंत्रण होगा । इस बारे में ट्रंप ने रक्षा मंत्री जिम मैटिस को एक मेमो भेजा, जिसमें उन्होंने कहा, 'मैं अमेरिका के कानून के मुताबिक 'यूनाइटेड स्टेट्स स्पेस कमांड' को कार्यात्मक एकीकृत युद्धक कमान के तौर पर स्थापित करने का निर्देश देता हूं ।'  बता दें कि नई कमान ट्रंप की नई सैन्य इकाई 'स्पेस फोर्स' बनाने के लक्ष्य से अलग है लेकिन यह उस दिशा में एक कदम हो सकता है। ट्रंप ने एक्शन ऐसे समय में लिया है जब रूस और चीन अमेरिकी सैटलाइट्स को बाधित और जड़ से खत्म करने के लिए कोई न कोई राह तलाश रहे हैं।

  • देश का 35वां संचार उपग्रह जीसैट-7ए प्रक्षेपण के लिए पूरी तरह से तैयार है। इसे आज भूस्थैतिक उपग्रह प्रक्षेपण यान जीएसएलवी-एफ 11 से प्रक्षेपित किया जाएगा। इसरो ने कहा है कि जीसैट 7 ए भारतीय क्षेत्र में केयू बैंड में उपयोगकर्ताओं को संचार क्षमता प्रदान करेगा ।

  • संसद में विभिन्न मुद्दों पर विपक्षी सांसदों के हंगामे के चलते मंगलवार को भी लोकसभा की कार्यवाही बाधित हुई । सदन में अन्नाद्रमुक सांसदों ने कावेरी नदी का मुद्दा उठाया तो कांग्रेस के सदस्यों ने राफेल के मसले पर हंगामा किया। इस बीच, तीन भाजपा सांसदों संजय जायवसाल, अनुराग ठाकुर और निशिकांत दुबे ने राफेल के मुद्दे पर लोकसभा में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के ख़िलाफ़ विशेषाधिकार हनन का नोटिस दिया है। सदन में शोरशराबे के चलते प्रश्नकाल नहीं चल पाया और सदन की कार्यवाही 12 बजे तक के लिए स्थगित करनी पड़ी। 12 बजे कार्यवाही शुरु होने पर भी सदन में हंगामा कम नहीं हुआ, जिसके चलते लोकसभा को दिन भर के लिए स्थगित करना पड़ा राज्य सभा का भी हाल लगभग लोक सभा के ही जैसा था। उच्च सदन में भी विपक्षी सदस्यों ने विभिन्न मुद्दों पर हंगामा किया, जिसके चलते कामकाज में बाधा आई। हंगामा न थमते देख सदन की कार्यवाही को दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित करना पड़ा। दोपहर दो बजे भी सदन में हंगामा चलता रहा जिसके चलते सदन को दिन भर के लिए स्थगित करना पड़ा

  • पर्थ टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 146 रन से हरा दिया है। 287 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत की टीम दूसरी पारी में 140 रन पर ढेर हो गई। मैच के पांचवे और आखिरी दिन भारत ने 5 विकेट पर 112 रन से आगे खेलना शुरु किया तो हनुमा विहारी और रिषभ पंत के रूप में बल्लेबाज़ों की आखिरी जोड़ी क्रीज़ पर थी। हनुमा विहारी अपनी पारी को ज्यादा आगे नहीं ले जा सके और 28 रन बनाकर स्टार्क की गेंद पर आउट हो गए। भारत की आखिरी उम्मीद भी रिषभ पंत के विकेट के साथ खत्म हो गई। इसके बाद सिर्फ औपचारिकता बाकी रह गई थी और कमिंस की गेंद पर बुमराह के आउट होते ही भारत की पारी सिमट गई। दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलिया के लिए लॉयन और स्टार्क ने तीन-तीन और हेजलवुड और कमिंस ने दो-दो विकेट लिए। लॉयन को मैन ऑफ द मैच चुना गया, जिन्होंने पहली पारी में पांच सहित मैच में कुल आठ विकेट चटकाए। एडीलेड में खेला गया पहला टेस्ट भारत ने जीता था और अब ये टेस्ट ऑस्ट्रेलिया के जीतने के बाद सीरीज़ 1-1 की बराबरी पर आ गई है। सीरीज़ का तीसरा टेस्ट 26 दिसबंर से मेलबर्न क्रिकेट ग्रांउड में खेला जाएगा।     

  • एक दिवसीय दौरे पर महाराष्ट्र पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य को ढेरों विकास परियोजनाओं की शुरूआत की।उन्होंने  मुंबई वासियों को यातायात की सुगम सुविधा के लिए ठाणे-भिवंडी-कल्याण मेट्रो रेलमार्ग-पांच और दहीसर-मीरा भयंदर मेट्रो रेलमार्ग-नौ का शिलान्यास किया। इसके अलावा पीएम मोदी ने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बनने वाले करीब 90,000 घरों की भी आधारशिला रखी। पीएम मोदी ने इस मौके पर घर हासिल करने वाले लोगों को आवंटन पत्र भी सौंपा। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्पष्ट किया कि मौजूदा सरकार का मकसद सिर्फ देश की आधारभूत संरचनाओं का भविष्य की ज़रूरतों के मुताबिक निर्माण करना है। उन्होने 2014 तक मेट्रो की सुस्त रफ़्तार के लिए यूपीए सरकार को ज़िम्मेदार बताया।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने देश के मध्यम वर्ग के लोगों का विशेष ध्यार रखा है। एलईडी बल्ब हो या घर सभी से सीधा फायदा मध्यम वर्ग को हुआ है। उन्होंने कहा कि देशभर में उजाला योजना के तहत 30 करोड़ से ज्यादा एलईडी बल्ब बांटे जा चुके हैं, जिसमें से करीब सवा 2 करोड़ बल्ब महाराष्ट्र में बांटे गए हैं। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत सरकार  ढाई लाख रुपए तक की मदद सीधे बैंक में जमा कर रही है। जिसकी सीधा फायदा निम्म और मध्यम वर्ग के लोगों को हुआ है। इसके अलावा, पहले के मुकाबले होम लोन पर ब्याज दर में कमी करके निम्न आय वर्ग के लिए इसे 6 प्रतिशत कर दिया गया है। मिडिल इनकम ग्रुप वालों को भी 3 से 4 प्रतिशत की इंटरेस्ट सब्सिडी दी गई है। उन्होंने बताया कि सरकार की कोशिशों की बदौलत बीते 7-8 महीने में नए घर खरीदने की रफ्तार पिछले वर्ष के मुकाबले दो गुनी से भी अधिक हुई है।  मुंबई की सभा के बाद पुणे पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मंच पर भव्य स्वागत किया गया। उन्होंने सूचना-प्रौद्योगिकी के हब के रुप में विख्यात पुणे शहर को मेट्रो रेल परियोजना के तीसरे चरण की सौगात प्रदान की। इस परियोजना के तहत हिंजेवाड़ी और शिवाजी नगर के बीच नई मेट्रो लाइन बनाई जाएगी। जिससे हजारों की संख्या में सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था का इस्तेमाल करने वाले लोगों को फायदा होगा। इस मौके पर आयोजित एक सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि विकास के हाइवे से आज कोई पीछे नहीं रह सकता। ये सब अगर हो पा रहा है तो इसके पीछे सरकार की प्रतिबद्धता है। उन्होंने कहा कि  सरकार भविष्य को ध्यान में रखकर आधारभूत संरचना का निर्माण कर रही है। प्रधानमंत्री ने कहा कि मेट्रो आज के समय में शहरों की लाइफलाइन बन चुकी है। इसी का परिणाम है कि इस समय देश में 500 किलोमीटर से ज्यादा की मेट्रो लाइन चल रही है और करीब साढ़े 6 सौ किलोमीटर से ज्यादा की लाइऩें पूरी होने को हैं। महाराष्ट्र में भी केंद्र और राज्य सरकार मिलकर 200 किलोमीटर से अधिक की मेट्रो लाइनों का निर्माण कर रही है। उन्होंने देश भर में हो रहे मेट्रो विस्तार के लिए पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को श्रेय दिया। उन्होंने कहा कि आज डिजिटल इंडिया अभियान व्यापक स्वरुप ले चुका है और जन्म प्रमाण पत्र से लेकर जीवन प्रमाण पत्र तक की सुविधाएं ऑनलाइन उपलब्ध हैं। उन्होंने कहा कि  चौथी औद्योगिक क्रांति के लिए आवश्यक इंफास्ट्र्क्चर तैयार है । प्रधानमंत्री ने युवाओं की नब्ज़ को टटोलते हुए कहा कि स्टार्ट अप इंडिया और अटल इनोवेशन मिशन के माध्यम से भारत भविष्य की तकनीक का एक बड़ा सेंटर बनता जा रहा है। उन्होंने बताया कि स्टार्ट अप के मामले में भारत दुनिया का दूसरा बड़ा इकोसिस्टम बन चुका है।

  • मुंबई में एक निजी चैनल के कार्यक्रम में पहुंचे पीएम मोदी ने आगे बढते भारत विषय पर अपनी बात रखी तो साढे 4 साल में सरकार की उपलब्धियों के जरिए विरोधियों को करारा जवाब दिया । पीएम ने सरकार के तमाम कदमों के जरिए अर्थव्यवस्था , कारोबार और समाज के हर क्षेत्र में आ रहे बदलाव का खाका पेश किया। पीएम ने कहा कि सरकार जीएसटी को और सरल बनाने पर लगातार काम हो रहा है और जल्द ही 99 फीसदी वस्तुओं को जीएसटी के 18 प्रतिशत के स्लैब में लाया जाएगा । जीएसटी के फायदे गिनाते हुए पीएम ने कहा कि जीएसटी लागू होने से लोगों को एक साफ-सुथरी, सरल, इंस्पेक्टर राज से मुक्त व्यवस्था मिल रही है ।  अर्थव्यवस्था भी पारदर्शी हो रही है। पीएम ने कहा कि जीएसटी लागू होने से पहले केवल 65 लाख उद्यम पंजीकृत थे, जिसमें अब 55 लाख की वृद्धि हुई है और ये बढ़कर 1 करोड़ 20 लाख हो गई है। पीएम ने बताया कि कैसे उनकी सरकार के साढे चार साल के कार्यकाल में देश में दशकों से लंबित भ्रष्टाचार और अन्य अपराधियों पर शिकंजा कस रहा है जिससे लोगों को इंसाफ मिल रहा है। राफेल सौदे को सुप्रीम कोर्ट से मिली क्लीन चिट   के मुद्दे पर पीएम मोदी ने अपनी बात रखी और विरोधियों को करारा जवाब दिया। प्रधानमंत्री ने बताया कि उनकी सरकार के कार्यकाल में वो काम हुए जो किसी ने सोचा भी न था। चार साल में भारत ने फाइव ट्रिलियन डॉलर इकॉनमी के क्लब में शामिल होने की तरफ अपना कदम बढ़ा दिया है। चार साल में कारोबार सुगमता रैंकिंग में भारत 142 से 77 पर आ गया। चार साल में एसी ट्रेन में चलने वाले लोगों से ज्यादा लोग हवाई सफर कर रहे हैं। चार साल में आम आदमी भी BHIM App का इस्तेमाल कर रहा है। चार साल में  भारत का एविएशन सेक्टर इतना मजबूत हो गया है कि कंपनियों को एक हजार नए हवाई जहाज का ऑर्डर देना पड़ रहा है।   चार साल  में भारत में नेशनल वॉटरवेज एक सच्चाई बन गया है ।  चार साल में भारत एक बार में सौ सैटेलाइट छोड़ने का रिकॉर्ड बनाया है और  गगनयान के लक्ष्य पर काम कर रहा है । चार साल में स्टार्ट अप की दुनिया से लेकर खेल की दुनिया में भारत की प्रतिष्ठा  बढ़ गयी है। प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार पिछले 4 साढ़े चार साल में नीतियों में बदलाव करके स्थितिय़ों को बदलने की कोशिश की है। 2014 से पहले देश में नीतिगत पंगुता थी जबकि आज सुशासन और पारदर्शी नीतियां है । 2014  से पहले देश के 50 प्रतिशत लोगों के पास बैंक खाते नहीं थे और अब  देश का हर परिवार बैकिंग सिस्टम से जुड़ चुका है। 2014  से पहले टैक्स देने वालों की संख्या 3 करोड़ 80 लाख थी अब इस साल ये संख्या बढ़कर लगभग 7 करोड़ हो चुकी है । 2014 से पहले देश में मोबाइल बनाने वाली सिर्फ 2 कंपनियां थीं आज उन्हीं ये संख्या बढ़कर 120 के पार हो गई है ।  2014 से पहले  स्वच्छता का दायरा 40 प्रतिशत से भी कम था और अब 2018 के अंत में वही दायरा बढ़कर 97 प्रतिशत पहुंच चुका है । कुल मिलाकर पीएम ने अपने संबोधन में आंकडों के जरिए बताया कि कैसे साढे चार साल में भारत की अर्थव्यवस्था हो, या भारत की प्रतिभा, भारत की सामाजिक व्यवस्था हो, सांस्कृतिक मूल्य हो या फिर  भारत की सामरिक ताकत, हर स्तर पर भारत की चमक और बढ़ रही है।   

  • दुनियाभर में आज अंतरराष्ट्रीय प्रवासी दिवस मनाया जा रहा है। आज के ही दिन यानि 18 दिसंबर 1990 को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने इससे संबंधित प्रस्ताव एक अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में इसे स्वीकार किया था। यह सम्मेलन प्रवासी कामगारों और उनके परिवार के सदस्यों के अधिकार और सुरक्षा के लिए आयोजित की गई थी। साल 2018 के अंतरराष्ट्रीय दिवस की थीम सम्मान के साथ प्रवास है। संयुक्त राष्ट्र हर साल सरकारों, संगठनों और इस क्षेत्र में अग्रणी भूमिका निभाने वाले लोगों को इस मौके पर आमंत्रित करती है। इसका उद्देश्य प्रवासी कामगारों से जुड़े आजादी के साथ काम और मानवाधिकार जैसे मुद्दे पर लोगों के विचार साझा किए जाते हैं। इसका उद्देश्य प्रवासी कामगारों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के साथ ही आगे के लिए कार्य योजना तैयार की जा सके।   

  • यमन के शहर हदेदिया और उसके आसपास के इलाकों में युद्धविराम आज से लागू हो जाएगा। युद्ध से प्रभावित इस इलाके में शांति को लेकर बड़ी मुश्किल से स्वीडन में युद्धविराम समझौता किया गया है। लेकिन दोबारा से शुरू हुई लड़ाई की वजह से युद्धविराम पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। सउदी सरकार समर्थित यमन और हूथी विद्रोहियों के बीच समझौते के बाद हदेदिया में तुरन्त युद्धविराम घोषित किया गया था। संयुक्त राष्ट्र के दूत मार्टिन ग्रीफिथ ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र इस इलाके में युद्ध विराम समझौतों को समय से और सही तरीके से लागू करने के लिए दोनों पक्षों के साथ काम कर रहा है ।

  • प्रधानमंत्री ने मुबंई ईएसआई कामगार हॉस्पीटल हादसे में मारे गए लोगों के प्रति दुःख जताया। इसके बाद प्रधानमंत्री ने पिछले चार साल में बदलते भारत की तस्वीर लोगों के सामने रखते हुए कहा कि  भारत तेज़ी से आर्थिक,सामाजिक,सांस्कृतिक और आधारभूत संरचना के पहलू पर तेज़ी से प्रगति कर रहा है।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  आज महाराष्ट्र में 41 हजार करोड़ रुपये की लागत वाली ढांचागत और आवास परियोजनाओं का शुभारंभ करेंगे। राज्य की दिनभर की यात्रा के दौरान पीएम मोदी कल्याण में एक जनसभा में दो महत्वपूर्ण मेट्रो मार्गों की आधारशिला रखेंगे। ये हैं - ठाणे जिले में ठाणे-भिवंडी-कल्याण मेट्रो और दहीसर-मीरा-भयंदर मेट्रो। पीएम मोदी प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत 18 हजार करोड़ रुपये की लागत वाली एक बड़ी आवास योजना भी शुरु करेंगे, जिसका लक्ष्य आर्थिक दृष्टि से कमजोर वर्गों के लिए करीब 90 हजार सस्ते मकानों का निर्माण करना है। इन मकानों का निर्माण नवी मुम्बई टाउन प्लानिंग ऑथॉरिटी और औद्योगिक विकास निगम द्वारा किया जाएगा। पुणे में एक अन्य कार्यक्रम में प्रधानमंत्री हिंजेवाड़ी और शिवाजीनगर के बीच प्रस्तावित तीसरी मेट्रो लाइन की आधारशिला रखेंगे। 

  • 34 साल बाद आए एक फैसले से दिल्ली के हजारों दंगा पीडितों को बड़ा सुकून दिया है और सुकून हो भी क्यों नहीं क्योंकि जिस फैसले का वो इतने लंबे समय से इंतजार कर रहे थे, दिल्ली हाईकोर्ट की न्यायमूर्ति एस मुरलीधर और न्यायमूर्ति विनोद गोयल की पीठ ने सोमवार को उसे सुनाया. पीठ ने 1984 के सिख विरोधी दंगा मामले में कांग्रेस नेता सज्जन कुमार को हत्या की साजिश रचने का दोषी ठहराते हुए उम्रकैद की सजा सुनाई. पीठ ने सज्जन कुमार को अपराध के लिए उकसाने, सिखों के खिलाफ हिंसा को बढ़ावा देने और सांप्रदायिक सद्भाव को बाधित करने वाले भाषण देने के आरोप में दोषी ठहराते हुए कहा कि ''सत्य हमेशा जीतेगा और न्याय कायम रहेगा.'' उच्च न्यायालय ने कहा कि कुमार को ताउम्र जेल में रहना होगा और उन्हें 31 दिसंबर तक आत्मसमर्पण करने का निर्देश दिया. पीठ ने कुमार को अभी से लेकर 31 दिसम्बर तक दिल्ली छोड़कर ना जाने का निर्देश भी दिया. अदालत ने इस मामले में कांग्रेस के पूर्व पार्षद बलवान खोखर, सेवानिवृत्त नौसेना अधिकारी भागमल, गिरधारी लाल, पूर्व विधायक महेंद्र यादव और कृष्ण खोखर को दोषी करार देने का निचली अदालत का फैसला बरकरार रखा और अलग-अलग सजाएं सुनाईं. दिल्ली हाईकोर्ट ने अपने फैसले में इसे आजादी के बाद का सबसे भीषण दंगा करार देते हुए कई तल्ख टिप्पणियां भी की. अदालत ने कहा, 'विभाजन के समय 1947 के गर्मी के दौरान बहुत सारे लोगों का कत्लेआम किया गया और इसके 37 साल बाद दिल्ली भी इसी तरह की त्रासदी की गवाह बनी. एक से चार नवंबर के बीच चार दिनों तक पूरी दिल्ली में 2,733 सिखों की बर्बरता पूर्वक हत्या कर दी गई. उनके घर तोड़ दिए गए. बाकी देश में भी हजारों सिख मारे गए. इस सामूहिक अपराध के अधिकतर आरोपियों ने राजनीतिक संरक्षण का लाभ लिया और तमाम एजेंसियों ने भी उनकी मदद की. अपराधी दो दशक से अधिक समय तक सजा से बचते रहे. फैसले के बाद दंगा पीड़ितों ने संतोष जताया और बाकी गुनहगारों को भी जल्द सजा की मांग की. दंगा पीड़ितों के जख्मों पर मरहम लगा तो साथ ही निशाने पर आई कांग्रेस. तमाम सियासी दलों ने इस मामले में कांग्रेस पर हमला बोला. गौरतलब है कि 1984 के ये दंगे प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की 31 अक्टूबर, 1984 को हत्या किए जाने के बाद हुए थे, जिनमें हजारों सिख मारे गए थे. इन्हीं दंगों से जुड़ा यह मामला पांच लोगों की मौत का है. दिल्ली कैंट इलाके में 1 नवंबर, 1984 को हज़ारों लोगों की भीड़ ने सिख समुदाय के लोगों पर हमला कर दिया था, जिसमें पांच लोग मारे गए थे. लेकिन नानावटी कमीशन की रिपोर्ट के आधार पर साल 2005 में इस मामले में केस दर्ज किया गया. मई 2013 में निचली अदालत ने इस मामलें में पांच लोगों को दोषी करार दिया, लेकिन कांग्रेस नेता सज्जन कुमार को सबूतों के अभाव में बरी कर दिया था. इसके बाद पीड़ित पक्ष और दोषियों ने हाईकोर्ट की शरण ली थी फिलहाल एक मामले में इंसाफ हुआ है और अब उम्मीद बंधी है कि धीरे-धीरे बाकी मामलों में भी इंसाफ होगा.

  • आंध्र प्रदेश में चक्रवात 'पेथाई' ने आज दस्तक दे दी. ये तूफान सोमवार दोपहर पूर्वी गोदावरी जिले तक पहुंच गया, जिससे मध्यम से भारी बारिश हुई. हालांकि तूफान अब कमजोर पड़ रहा है. जिस समय तूफान कात्रेनिकोना के पास पहुंचा, उस समय हवा की रफ्तार 80 किलोमीटर प्रति घंटे की थी. इस स्थिति के बाद सभी बचाव एजेंसिया अलर्ट पर हैं. किसी भी तरह की अनहोनी से निपटने के लिए राज्य और केंद्र के राहत दल अलर्ट पर हैं, पूर्वी नौसेना कमांड भी जरूरत पड़ने पर राहत सामग्री के साथ तैयार है. इस चक्रवात के कारण अभी तक किसी तरह की जनहानि की कोई खबर नहीं है. लेकिन एहतियात के तौर पर स्थानीय प्रशासन ने स्कूलों में छुट्टी की घोषणा की है. राष्ट्रीय आपदा और राज्य आपदा मोचन बल की टीमें किसी भी स्थिति से निपटने के लिए आंध्र प्रदेश के मध्य तटीय क्षेत्रों में तैनात की गई हैं. चक्रवात के प्रभाव से कुछ हिस्सों में हल्की बारिश हुई है. कुछ तटीय जिलों में चक्रवात राहत शिविर भी खोले गए हैं. इसके कारण दक्षिण मध्य रेलवे ने 50 ट्रेनों को रद्द कर दिया है. विशाखापत्तनम जाने वाली हवाई सेवाओं को रद्द कर दिया गया और कुछ सेवाओं को हैदराबाद के लिए डायवर्ट कर दिया गया है.

  • लोकेश राहुल पहले ही ओवर में बिना खाता खोले आउट हो गए. चेतेश्वर पुजारा भी 4 रन बनाकर चलते बने. विराट कोहली को आउट कर ल्यों ने भारत को बड़ा झटका दिया. मुरली विजय 20 और अजिंक्य रहाणे 30 रन की पारी खेलकर आउट हुए. सोमवार को मैच के चौथे दिन ऑस्ट्रेलिया ने अपने तीसरे दिन के स्कोर 4 विकेट पर 132 रन से आगे खेलना शुरू किया. पहले सत्र में भारतीय टीम को कोई सफलता हाथ नहीं लगी. लंच के बाद मोहम्मद शमी ने टिम पेन को 37 के स्कोर पर आउट कर भारत को पांचवीं सफलता दिलाई. अगली ही गेंद पर शमी ने ऐरोन फिंच को चलता किया. उस्मान ख़्वाज़ा भी 72 रन बनाकर शमी का शिकार बने. आखिरी विकेट के लिए स्टार्क और हेज़लवुड ने 36 रन जोड़े. स्टार्क को आउट कर बुमराह ने ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी 243 रन पर समेट दी.

  • जापान के एक रेस्तरां में रविवार की रात हुए विस्फोट में 42 से अधिक लोग घायल हो गये। जापान के उत्तरी मुख्य होक्काइदो द्वीप की राजधानी साप्पोरो में यह विस्फोट हुआ। विस्फोट के कारण आसपास स्थित अपार्टमेंट की इमारतें और मकान तक हिल गये। पुलिस के मुताबिक विस्फोट में 42 लोग घायल हुए हैं। घायलों का इलाज नजदीक के अस्पतालों में किया जा रहा है।     

  • भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और वित्त मंत्री अरुण जेटली ने रफाल सौदे के बारे में विपक्ष के आरोपों का खंडन करते हुए कहा है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस बारे में जो भी तथ्य दिए हैं, वे मनगढ़ंत साबित हुए हैं। अपनी फेसबुक पोस्ट में अरूण जेटली ने कहा कि भाजपा की सरकार घोटाला मुक्त है और बिचौलियों तथा घोटालेबाजों को विदेशों में शरण लेनी पड़ रही है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के पास बोफोर्स की दागदार विरासत का बोझ है और वे राफेल और बोफोर्स की तुलना करने की अनैतिक कोशिश कर रहे हैं। वित्त मंत्री अरूण जेटली ने कहा है कि उच्चतम न्यायालय के फैसले के बाद अब इसपर बहस बंद हो जानी चाहिए। गौरतलब है कि उच्चतम न्यायालय ने शुक्रवार को राफेल मामले से संबंधित सभी जांच की मांग करने वाली याचिकाओं को खारिज कर दिया था।  वित्त मंत्री अरुण जेटली ने उच्चतम न्यायालय द्वारा राफेल मामले की जांच को खारिज करने के बाद फेसबुक पर अपना विचार व्यक्त किया। उन्होंने  कहा कि सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के बाद राफेल सौदे पर बोले जाने वाले हर झूठ का पर्दाफाश हो गया है। सरकार के खिलाफ हर बात झठी साबित हुई है। कांग्रेस की तरफ से राफेल सौदे को गलत साबित करने के लिए मनगढ़त कहानी बनाने की कोशिश की गई जो पूरी तरह से असफल रही। जेटली ने लिखा कि एक बार फिर से सत्य की जीत हुई है। हांलाकि झूठ बोलने वाले अभी भी झूठ को सच साबित करने में लगे हुए है।  दरअसल वायु सेना में राफेल विमान के शामिल होने से भारतीय वायु सेना की स्थिति को मजबूत प्राप्त हुई है। भौगोलिक दृष्टीकोण से भारत एक संवेदनशील क्षेत्र में स्थित है और इसे सुरक्षित रखने के लिए सेना का मजबूत होना बहुत जरूरी है। इसलिए अपने सेना को अधिक मारक क्षमता और बेहतर हथियार मुहैया करना बहुत ज़रूरी होता है। इसलिए अच्छे रक्षा उपकरणों को दूसरे देशों से खरीदना पड़ता है। उन्होंने लिखा है कि राहुल गांधी हताश होकर इस सौदे का विरोध कर रहें हैं।  कांग्रेस जब सत्ता में थी तब राफेल सौदा तय हुआ था। जब भाजपा की सरकार सत्ता में आई तब इस सौदे की शर्तों, नियमों और कीमतों में यूपीए सरकार से बेहतर परिवर्तन किया गया    अरुण जेटली ने लिखा है कि राहुल गांधी का इस सौदें के विरोध करने के तीन कारण है। पहला कारण है कांग्रेस पार्टी भाजपा सरकार की अच्छाइयों को सहन नहीं कर पा रही है। भाजपा की सरकार भारतीय इतिहास में सबसे स्वच्छ सरकार के रुप में साबित हुई है। यह घोटला मुक्त सरकार है जहां बिचौलियों और घोटाला करने वाले देश छोड़कर भार रहें हैं। दूसरा कारण है कांग्रेस सरकार ने बोफोर्स जैसे घोटालों को अंजाम दिया, अब वह राफेल को बोफोर्स से तुलना करने की कोशिश कर रही है। लेकिन उच्चतम न्यायालय के फैसले के बाद कांग्रेस पार्टी को यह खेल उल्टा पड़ गया। तीसरा कारण है यूपीए शासन में घोटाला करके भागने वालों को  अन्तरराष्ट्रीय सहयोग और सरकार के प्रयास से वापस लाया जा रहा है। जिससे कांग्रेस पार्टी डरी हुई है।

  • संसद की शीतकालीन सत्र का आज दूसरे सप्ताह का पहला दिन है। पहले हफ्ते विपक्षी दलों के हंगामे के चलते खास कामकाज नही हो पाया। इस हफ्ते सरकार की कोशिश होगी कि विधायी कामकाज को आगे बढ़ाया जाये। वंही देखना होगा कि सदन चलाने को लेकर सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच क्या कोई सहमति बन पाती। आज संसद के दोनो सदनों में कई अहम विधेयक पेश किये जाने है। इसके साथ ही प्राकृतिक आपदा से तटवर्ती राज्य़ों खासतौर पर केरल तमिलनाडु और ओडिशा के हालात पर एक चर्चा भी लोकसभा में प्रस्तावित है।

  • बीजेपी आज देश के अलग-अलग हिस्सों में 70 प्रेस कॉफ्रेंस कर कांग्रेस के झूठ का पर्दाफाश करेगी। भाजपा के प्रवक्ता, मंत्री, वरिष्ठ नेता, केन्द्रीय मंत्री, मुख्यमंत्री देश के सत्तर स्थानों पर राफेल सौदे पर कांग्रेस के झूठ को बेनकाब करेगी। केन्द्र सरकार के मंत्री से लेकर पार्टी के वरिष्ठ नेता प्रेस कॉफ्रेंस के जरिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से देश से मांफी मांगने की मांग करेंगे। आंध्र प्रदेश में विजयवाड़ा से पार्टी के प्रवक्ता सांबित पात्रा मोर्चा संभालेंगे तो त्रिवेन्द्रम से जेपी नड्डा, रांची से भूपेन्द्र यादव तो रायपुर छत्तीसगढ़ से झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास। पटना में यूपी के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य प्रेसवार्ता करेंगे तो नासिक में पूनम महाजन कांग्रेस अध्यक्ष के खिलाफ मोर्चा खोलेंगी। मुंबई में रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण राफेल को लेकर विपक्ष पर हमलावर होंगी तो लखनऊ में मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कांग्रेस के झूठ को उजागर करेंगे। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुवाहाटी में कांग्रेस अध्यक्ष के झूठ को उजागर करेंगे तो गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी जयपुर में राफेल को लेकर कांग्रेस की हकीकत बताएंगे। मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर हैदराबाद में, जितेन्द्र सिंह चंडीगढ़ में, भाजपा महासचिव राम माधव चेन्नई में, कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद भोपाल में, बेलगाम में बीएस येदियुरप्पा, अगरतला में असम के मुख्यमंत्री सर्वदानंद सोनवाल, अहमदाबाद में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फणनवीश, उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद में विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह कांग्रेस अध्यक्ष से देश से माफी मांगने की मांग करेंगे।

  • करीब एक महीने पहले देश की सत्ता संभालने के बाद अपने पहले विदेश दौरे पर भारत पहुंचे मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तमाम द्विपक्षीय मसलों पर विस्तार से बात की. इस बातचीत का लक्ष्य द्विपक्षीय संबंधों में नए अध्याय की शुरुआत करना था. प्रतिनिधि मंडल की स्तर की वार्ता के बाद संयुक्त प्रेस वक्तव्य में दोनों नेताओं ने संबंधों को मजबूत बनाने का संकल्प लिया, साथ ही रक्षा, सुरक्षा समेत तमाम मसलों पर मिलकर काम करने पर सहमति जताई. पीएम ने मालदीव के सामाजिक-आर्थिक विकास के लिए एक अरब 40 करोड़ डॉलर की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की. प्रधानमंत्री ने कहा कि दोनों देशों के सुरक्षा हित एक दूसरे के साथ हैं और दोनों पक्ष हिंद महासागर क्षेत्र में सहयोग को मजबूत करने के लिए एक साथ काम करेंगे. पीएम ने जोर देकर कहा कि भारत और मालदीव अपने-अपने देशों में किसी ऐसी गतिविधि की अनुमति नहीं देंगे, जो एक दूसरे के हितों के लिए हानिकारक हो सकता है. प्रधानमंत्री ने सोलिह को मालदीव के विकास में हर संभव मदद का आश्वासन दिया. इसके अलावा दोनों देशों के बीच वीजा सुविधा, सांस्कृतिक सहयोग, कृषि कारोबार तथा सूचना संचार तकनीक सहित चार समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए. इस दौरान सोलिह ने कहा कि हिंद महासागर में समन्वित गश्त एवं हवाई निगरानी के जरिए समुद्री सुरक्षा को मजबूत बनाने के लिए दोनों देश सहमत हुए. सोलिह तीन दिवसीय सरकारी दौरे पर रविवार को दिल्ली पहुंचे. सोमवार को उनकी बैठक विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के साथ भी हुई और दोनों ने आपसी हितों के द्विपक्षीय संबधों और क्षेत्रीय मुद्दों पर चर्चा की. इससे पहले मालदीव के राष्ट्रपति ने राजघाट जाकर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की समाधि पर श्रद्धांजलि दी.

  • राज्यों में जीत हासिल करने और लंबे समय तक मुख्यमंत्री के नामों को तय करने की मशक्कत के बाद आखिरकार सोमवार को कांग्रेस के 3 मुख्यमंत्रियों का शपथ ग्रहण समारोह हो गया. अशोक गहलोत ने ली राजस्थान के सीएम पद की शपथ सोमवार सुबह राजस्थान के मुख्यमंत्री के तौर पर अशोक गहलोत ने शपथ ली, तो सचिन पायलट उपमुख्यमंत्री बने. राजस्थान में अशोक गहलोत ने तीसरी बार राज्य के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली है. राज्य के मंत्रिमंडल के अन्य सदस्यों को बाद में शपथ दिलाई जाएगी. शपथ ग्रहण समारोह में राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व पीएम डॉ मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सहित अन्य दलों के नेताओं ने शिरकत की. कमलनाथ बने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कांग्रेस नेता कमलनाथ ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में कमान संभाली. मध्य प्रदेश में 15 साल बाद कांग्रेस की वापसी हुई है, कमलनाथ के मंत्रिमंडल में कौन-कौन से चेहरे होंगे फिलहाल अभी ये तय नही हुआ है. शपथ ग्रहण समारोह में कांग्रेस सहित कई दलों के नेता शामिल हुए. 72 साल के कमलनाथ यूपीए सरकार में केंद्रीय मंत्री रह चुके हैं. कमलनाथ ने मध्य प्रदेश की कमान भले ही संभाल ली हो, लेकिन 1984 के सिख विरोधी दंगों में उनकी भूमिका को लेकर देश के अलग-अलग इलाकों में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. सोमवार को भी दिल्ली और देहरादून समेत कई शहरों में विरोध-प्रदर्शन देखने को मिले. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री बने भूपेश बघेल मध्य प्रदेश के बाद शाम को छत्तीसगढ़ की नई सरकार का गठन हुआ और मुख्यमंत्री के तौर पर कांग्रेस नेता भूपेश बधेल को शपथ दिलाई गई. छत्तीसगढ़ के तीसरे सीएम के तौर पर भूपेश बघेल ने सोमवार को राज्य की कमान संभाली. भले ही कांग्रेस 3 राज्यों में मिली जीत के बाद उत्साहित नज़र आ रही हो लेकिन इस जीत के बाद विपक्षी एकता को एक सिरे से फिर से अंजाम तक पहुंचाने की कांग्रेसी कोशिशों को धक्का लगता नज़र आ रहा है. कांग्रेस ने इन तीनों राज्यों में शपथ ग्रहण समारोह को विपक्षी एकता के मंच के रूप में प्रस्तुत करने की कोशिश की थी लेकिन मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार को समर्थन देने वाले दल सपा और बसपा ही इस कार्यक्रम में शामिल नहीं हुए. जबकि कांग्रेस के साथ आम आदमी पार्टी के नेताओं की मंच पर मौजूदगी ने ये सवाल खड़ा कर दिया है कि कांग्रेस और आप के बीच आखिर क्या राजनीतिक खिचड़ी पक रही है.

  • वित्त मंत्री अरुण जेटली ने उच्चतम न्यायालय द्वारा राफेल मामले की जांच को खारिज करने के बाद फेसबुक पर अपने विचार व्यक्त किए. उन्होंने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के बाद राफेल सौदे पर बोले जाने वाले हर झूठ का पर्दाफाश हो गया है. सरकार के खिलाफ हर बात झठी साबित हुई है. कांग्रेस की तरफ से राफेल सौदे को गलत साबित करने के लिए मनगढ़ंत कहानी बनाने की कोशिश की गई, जो पूरी तरह से असफल रही. जेटली ने लिखा कि एक बार फिर से सत्य की जीत हुई है. हांलाकि झूठ बोलने वाले अभी भी झूठ को सच साबित करने में लगे हुए हैं. दरअसल वायु सेना में राफेल विमान के शामिल होने से भारतीय वायु सेना की स्थिति को मजबूती प्राप्त हुई है. भौगोलिक दृष्टिकोण से भारत एक संवेदनशील क्षेत्र में स्थित है और इसे सुरक्षित रखने के लिए सेना का मजबूत होना बहुत जरूरी है. इसलिए अपनी सेना को अधिक मारक क्षमता और बेहतर हथियार मुहैया करना बहुत ज़रूरी होता है. इसलिए अच्छे रक्षा उपकरणों को दूसरे देशों से खरीदना पड़ता है. उन्होंने लिखा है कि राहुल गांधी हताश होकर इस सौदे का विरोध कर रहे हैं. कांग्रेस जब सत्ता में थी तब राफेल सौदा तय हुआ था. जब भाजपा की सरकार सत्ता में आई तब इस सौदे की शर्तों, नियमों और कीमतों में यूपीए सरकार से बेहतर परिवर्तन किया गया. अरुण जेटली ने लिखा है कि राहुल गांधी का इस सौदे के विरोध करने के तीन कारण है. पहला कारण है कि कांग्रेस पार्टी भाजपा सरकार की अच्छाइयों को सहन नहीं कर पा रही है. भाजपा की सरकार भारतीय इतिहास में सबसे स्वच्छ सरकार के रूप में साबित हुई है. यह घोटला मुक्त सरकार है, जहां बिचौलियों और घोटाला करने वाले देश छोड़कर भाग रहे हैं. दूसरा कारण है कांग्रेस सरकार ने बोफोर्स जैसे घोटालों को अंजाम दिया, अब वह राफेल को बोफोर्स से तुलना करने की कोशिश कर रही है. लेकिन उच्चतम न्यायालय के फैसले के बाद कांग्रेस पार्टी को यह खेल उल्टा पड़ गया. तीसरा कारण है यूपीए शासन में घोटाला करके भागने वालों को अंतरराष्ट्रीय सहयोग और सरकार के प्रयास से वापस लाया जा रहा है, जिससे कांग्रेस पार्टी डरी हुई है.

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रक्षा सौदों पर कांग्रेस की जमकर खबर ली. उन्होंने याद दिलाया कि सैनिकों की रक्षा करने वाली बुलेटप्रूफ जैकेट की खरीदी भी कांग्रेस सरकार ने नहीं की. 2009 से 2014 तक मामला अटका ही रहा. प्रधानमंत्री ने कहा कि 2016 में 50 हजार बुलेटप्रूफ जैकेट खरीदे जा चुके हैं, जबकि 1 लाख 86 हजार बुलेटप्रूफ जैकेट का ऑर्डर दिया जा चुका है. उन्होंने कहा कि केंद्र में अब ज़िम्मेदार सरकार है, जो सैनिकों के साथ-साथ उनके परिवार वालों के प्रति भी जवाबदेह है. वन रैंक वन पेंशन के मुद्दे को दशकों तक लटकाए रहने पर भी प्रधानमंत्री ने कांग्रेस सरकार को जमकर घेरा. उन्होंने कहा कि सिर्फ 500 करोड़ के मुद्दे को कांग्रेस ने लटकाए रखा, जबकि भाजपा सरकार ने इसे लागू ही नहीं बल्कि सफलतापूर्वक भुगतान भी किया है. प्रधानमंत्री ने विश्वास दिलाया कि अब रक्षा मामलों में पूरी पारदर्शी प्रक्रिया अपनाई जाती है और हर क्षेत्र में सेना को मज़बूत किया जा रहा है. कांग्रेस के दुष्प्रचार, भ्रष्टाचार और रक्षा मामलों पर राजनीति को उजागर करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि उनके लिए दल से बड़ा देश है और यही उनका मंत्र भी है. किसानों से झूठे वायदे करने का पीएम ने कांग्रेस पर लगाया आरोप प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रायबरेली में जवानों के मुद्दे पर कांग्रेस को तो घेरा ही साथ ही उन्होंने किसानों के साथ झूठे वादे और स्वामीनाथन कमेटी की रिपोर्ट को 10 सालों तक लागू नहीं करने के आरोप भी लगाए. उन्होंने कहा कि भाजपा की केंद्र सरकार ने न्यूनतम समर्थन मूल्य में वृद्धि कर इसे लागू किया है. साथ ही किसानों को फसल बीमा का 33 हज़ार करोड़ का दावा निपटाया गया है. प्रधानमंत्री ने कहा कि आज भी कांग्रेस किसानों के साथ राजनीति ही कर रही है.

Pages